कमर और पीठ दर्द में फायदेमंद है मकरासन – जानिये विधि और लाभ

आज कल की भाग दौड़ भरी जिंदगी में पीठ दर्द और कमर दर्द की परेशानियां बढ़ती जा रही है। यह समस्या किसी भी इंसान को उसके किसी भी उम्र में हो सकती है। इसके पीछे का कारण शरीर में पोषक तत्वों जैसे की विटामिन और कैल्शियम की कमी भी हो सकती है। सिर्फ यही नहीं मांसपेशियो में तनाव और सही तरीके से नहीं बैठना और जोड़ो में खिंचाव की वजह से भी कमर दर्द हो सकता है।

मकरासन की मदद से हम इस समस्या से निजाद पा सकते है| मकरासन पेट के बल लेटकर किये जाने वाला आसन है| यह आसन में शरीर की आकृति मगर की तरह दिखाई देती है, इसलिए इसे मकरासन कहा जाता है| अंग्रेजी में इसे क्रोकोडाइल पोज़ कहा जाता है|

इस आसन से होने वाले फायदों के बारे में बात करे तो यह एक मात्र ही ऐसा आसन है, जिससे कमर दर्द की समस्या से आप राहत पा सकते है। इस आसन को नियमित रूप से करने पर आपको दवाइयों का सेवन नहीं करना पढ़ेगा| इसे करना बेहद ही आसान है, इसे किसी भी उम्र का व्यक्ति कर सकता है।

Makarasana Steps: मकरासन की विधि

मकरासन पीठ दर्द, कमर दर्द और कंधो की तकलीफों के लिए भी बहुत फायदेमंद आसन है। इससे उच्च रक्तचाप वाले पीड़ित व्यक्तियों को भी आराम मिलता है, तो आइये इसको करने की विधि जानते है।

  1. मकरासन करने के लिए सबसे पहले समतल भूमि पर चटाई बिछाकर पेट के बल लेट जाये।
  2. पेट के बल लेटने के बाद ठोड़ी को भूमि पर टिका ले।
  3. अब गर्दन को धीरे से उठायें और दोनों हाथों को कहुनियों से मोड़कर कहुनियों पर खड़ा कर दे और फिर ठुड्डी को आधार दे।
  4. लेकिन ध्यान रहे की कहुनियो को थोड़ा फैलाकर रखे ताकि आपकी गरदन और कमर पर जोर ना पड़े।
  5. साँस को अंदर की और लेते हुए पैर को ऊपर की और उठाये और छोड़ते हुए पैर को सीधा करे।
  6. इस प्रक्रिया को आपको दोनों पैर को साथ करना है।
  7. Crocodile Pose करने के कुछ समय बाद फिरसे सीधे लेटकर अपनी पहली वाली सही अवस्था में आजाये।

Benefits of Crocodile Pose: मकरासन करने के लाभ

मकरासन योग करने के ढेरों फायदे है, जिनके कुछ फायदों के बारे में आप जानते है, और कुछ के बारे में नहीं। तो आज हम आपको इसके कई और अन्य लाभ के बारे में बताएँगे, जिन्हे जानकर आप इस आसन को सही तरीके से करने और समझने लगेंगे।
मकरासन करने से निम्नलिखित लाभ होते हैं, जानिए यहाँ:-

  1. मकरासन करने से सभी कोशिकाएं और मासपेशियों में आराम मिलता है।
  2. मकरासन करने से अनिंद्रा की परेशानियां कम होती है।
  3. इसके नियमित अभ्यास से मानसिक शांति प्राप्त होती है।
  4. पाचन शक्ति को भी यह ठीक करता है।
  5. यह आसन शरीर में होने वाले रक्त संचार को भी ठीक करता है।
  6. मकरासन से दमा रोग व सांस संबंधित रोग भी दूर हो जाते है।
  7. मकरासन कमर दर्द, पीठ दर्द, सर्वाइकल में आराम देता है।
  8. इस योग को करने से हमारा शरीर स्वस्थ और निरोग रहता है।
  9. थकान होने पर कुछ देर के लिए आप रिलैक्स होना चाहे तो मकरासन सबसे फायदेमंद है। इस आसन का अभ्यास मेरुदंड के नीचे वाले भाग में होने वाले सभी रोगों से निजाद दिलाता है|
  10. यह शरीर के अंदर शूक्ष्म शक्ति को बढ़ाता है और इससे नतीजन शरीर मजबूत होता है।
  11. जिन लोगो को मोटापे की शिकायत है, या मोटापे के कारण आपका पेट बहार निकल रहा हो, तो यह आसन आपकी इस परेशानी को कम करने में मदद करेगा।

 

मकरासन में रखे यह सावधानियां

मकरासन वैसे तो बहुत सरल और फायदेमंद योगासन है, लेकिन अगर आपको इसको करते वक्त किसी भी तरह की कोई भी परेशानियां हो रही हो तो एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर ले। और मकरासन योग करते वक्त इन सावधानियों को भी जरूर बरतें।

  1. जिनको हर्नियां की शिकायत है, वो मकरासन नहीं करे।
  2. मकरासन करते वक्त घुटने से पैर नहीं मोडना चाहिए। जब ठोड़ी भूमि पर टिकी हो तब केवल 10 से 30 सेकंड तक इस स्थिति में रहें।
  3. अगर आपको किसी और तरह का अत्याधिक दर्द हो रहा है, तो इस आसन को ना करे।
  4. जिन्हे मेरुदंड पैरों या जांघों में कोई गंभीर बीमारी हो या परेशानी हो तो वह योग चिकित्सक की सलाह के बिना इसे नहीं करे।
  5. इस आसन को करने के बाद कुछ समय तक पीठ के बल लेटकर शवासन अवश्य करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *