सिर के पीछे थप्पड़ लगाना बच्चे के लिए हो सकता है हानिकारक

सिर के पीछे थप्पड़ लगाना बच्चे के लिए हो सकता है हानिकारक

बचपन में अक्सर हमारी मां हमें सिर पर थपकी देकर सुलाती थीं। किसी गलती के लिए डांट लगानी हो तो माता-पिता हल्के से बच्चे के सिर के पीछे थप्पड़ लगा देते हैं। अपने अनुशासनहीन बच्चे को दंड देने का वह यह सही तरीका मानते हैं। लेकिन 50 साल के लंबे शोध से पता चला है कि नाराज़ माता-पिता को अपने बच्चे के सिर के पीछे थप्पड़ लगाने से पहले दो बार सोचना चाहिए, क्योंकि ऐसा करना बच्चे के लिए हानिकारक साबित है सकता है। इससे बच्चों का मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित होता है।

शोध के अनुसार, बच्चों के सिर के पीछे हल्का थप्पड़ मारने से, उनमें मानसिक समस्याओं और संज्ञानात्मक क्षमताओं (कॉग्नेटिव एबिलिटी) का जोखिम बढ़ता है। निष्कर्षों तक पहुंचने के लिए शोधकर्ताओं ने पांच दशकों के डाटा का विश्लेषण किया। इस दौरान उन्होंने करीब 1,60,000 बच्चों के जीवन का आंकलन किया।

शोधकर्ताओं के इस अनुभव से गुजरने वाले बच्चों और मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं के विकास की संभावना के बीच एक पॉजिटिव संबंध पाया गया। ऑस्टिन स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास से इस अध्ययन की लेखिका एलिजाबेथ जेरशॉफ के अनुसार, “शोध में देखा गया कि बच्चों के सिर के पीछे थप्पड़ लगाना, हानिकारक निष्कर्षों के साथ संबंध रखता है। असके अलावा माता-पिता अगर सोचते हैं कि ऐसा करने से उनके बच्चे सुधर जाएंगे, तो यह गलत है, क्योंकि इस तरह का उनका व्यवहार बच्चों को लंबे समय तक के लिए नहीं सुधार सकता है”।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *